Affiliate Marketing क्या है ? और इसे कैसे किया जाता है?

Affiliate Marketing क्या है ? और इसे कैसे किया जाता है? 

Affiliate marketing
Affiliate Marketing

What is Affiliate Marketing

आज के इस दौर में टेक्नोलॉजी के साथ earning करने के काफी सारे तरीके हो गए हैं। इंटरनेट की सहायता से आप काफी सारे पैसे कमा सकते हो। कुछ लोग इस बात से अनजान हैं। कि इंटरनेट से भी पैसा कमाया जा सकता है। और कुछ लोग यह भी मानते हैं कि इंटरनेट से पैसा नहीं कमाया जा सकता है। लेकिन यह बिल्कुल सत्य है। कि इंटरनेट से पैसा कमाया जा सकता है।

वैसे तो इंटरनेट से पैसे कमाने की काफी सारे तरीके हैं। लेकिन एफिलिएट मार्केटिंग एक ऐसा तरीका है। जिससे आप महीने के हजारों नहीं बल्कि लाखों रुपए तक बड़ी आसानी से कमा सकते हो। एफिलिएट मार्केटिंग को हर कोई कर सकता है। क्योंकि यह बहुत ही आसान है। किसी ब्लॉगर के लिए एफिलिएट मार्केटिंग एक अच्छा और परफेक्ट ऑप्शन है। जिन लोगों के ब्लॉग को गूगल ऐडसेंस से अप्रूवल नहीं मिला है। वह भी इसका उपयोग कर सकते हैं।

काफी सारे लोग एफिलिएट मार्केटिंग का उपयोग कर रहे हैं। और वह इसे गूगल ऐडसेंस से भी अच्छा मान रहे हैं। गूगल ऐडसेंस की अपेक्षा एफिलिएट मार्केटिंग से काफी ज्यादा अर्निंग होती है। इसलिए अब जान लेते हैं। कि एफिलिएट मार्केटिंग क्या है ? और इसे किस प्रकार शुरू किया जा सकता है। इसकी संपूर्ण जानकारी इस पोस्ट मैं आपको मिल जाएगी। इसलिए पोस्ट में शुरू से लेकर अंत तक बने रहें।

 एफिलिएट मार्केटिंग क्या है ?

आपने देखा होगा कि बहुत सी कंपनियां ऑनलाइन प्रोडक्ट का सामान बेचने वाली है। जो कि एफिलिएट मार्केटिंग चलाती हैं। जैसे स्नैपडील /क्लिक बैंक / ऐमेजोन/ फ्लिपकार्ट /ईटीसी / इबे आदि कंपनियों में एफिलिएट प्रोग्राम मैं शामिल होकर हर व्यक्ति वेबसाइट के सामान को भेज सकता है। और इससे उसे कमीशन भी मिल जाता है। हर प्रोडक्ट का कमीशन अलग अलग होता है। इस प्रक्रिया को एफिलिएट मार्केटिंग कहा जाता है। हमें कोई सामान खरीदने के लिए ऑफलाइन एवं ऑनलाइन दो ऑप्शन मिल जाते हैं। लेकिन आज के समय में ऑनलाइन शॉपिंग करना काफी ज्यादा लोकप्रिय हो चुका है। काफी लोगों को ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद होता है। इसका कारण यह है। कि ऑनलाइन सामान की कीमत ऑफलाइन की तुलना में कम होती है।

काफी सारी ऑनलाइन बिजनेस कंपनी है। जो कि एफिलिएट मार्केटिंग को चला रही हैं। जिससे वह अपने प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों को बेच सके। इसलिए यह कंपनी लोगों को एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा अपने साथ कनेक्ट कर लेती है। और जो भी लोग इन कंपनी के प्रोडक्ट को खरीदते हैं। तो उनको कमीशन e मिल जाता है।

 एफिलिएट मार्केटिंग किस प्रकार काम करती है ?

अगर आप भी एफिलिएट मार्केटिंग करना चाहते हैं। तो इसके लिए सबसे पहले आपको एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन करना पड़ेगा। इंटरनेट पर काफी सारे एफिलिएट प्रोग्राम अवेलेबल हैं। आपको किस तरह का प्रोडक्ट बेचना पसंद है। आप उसी प्रकार के एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन कर सकते हैं। फिर आपको वेबसाइट पर उपस्थित कोई भी सामान बेचने के लिए प्रोडक्ट की लिंक को जेनरेट भी करना पड़ेगा। 

फिर उसे ऑनलाइन प्रमोट करना पड़ता है। जैसे ही कोई इस लिंक के द्वारा सामान को खरीदेगा तो आपको कमीशन मिल जाएगा।
जिस प्रकार किसी सेल्समैन को किसी प्रोडक्ट को बेचने के लिए कंपनी की ओर से इंसेंटिव मतलब कमीशन मिलता है। उसी तरह एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा जी प्रोडक्ट को बेचने से भी कमीशन मिलता है। अगर आप ऑनलाइन सामान बेचना पसंद करते हैं। तो आप भी अपनी एक मार्केटिंग की सहायता से अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।

 Affiliate प्रोग्राम

जो कोई भी ऑनलाइन वेबसाइट इस तरह के प्रोग्राम को चलाती हैं। जैसे वे किसी वेबसाइट के किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करती हैं। फिर सेल हो जाने के बाद कमीशन देती है। तो ऑनलाइन वेबसाइट के प्रोग्राम को affiliate प्रोग्राम कहा जाता है। जैसे अमेजॉन / फ्लिपकार्ट/ स्नैपडील / क्लिक बैंक / इबे/ ईटीसी आदि।

 एफिलिएट link

जैसे ही हम किसी एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन कर लेते हैं। तो इसके बाद प्रोडक्ट को सेल करने के लिए उसका हमें एक लिंक जेनरेट करना होता है। और ऐसे एफिलिएट लिंक कहा जाता है।

Affiliates

 जिन लोगों ने इस प्रोग्राम को जॉइन कर लिया है। और वेबसाइट के प्रोडक्ट को प्रमोट करके कमीशन कमा रहे हैं। इसे एफिलिएट्स कहते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग शुरू कैसे करें?

अब बात आती है। कि एफिलिएट मार्केटिंग शुरू कैसे करते हैं। क्योंकि आपको इसके लिए प्रोडक्ट का प्रमोशन करना होता है। जिससे वह अधिक से अधिक लोगों के पास पहुंच जाए। और आप इस प्रोडक्ट को बेच पाए। तो आइए जानते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करते हैं।

 ब्लॉगिंग

ब्लॉगिंग एफिलिएट मार्केटिंग करने का सबसे अच्छा तरीका है। काफी सारे ब्लॉगर एफिलिएट मार्केटिंग की मदद से पैसा कमा रहे हैं। इसलिए आप भी एक ब्लॉग बना के एफिलिएट मार्केटिंग को स्टार्ट कर सकती हो।

• आप अपने ब्लॉग niche की मदद से एफिलिएट प्रोग्राम जॉइन करने के बाद उन्हें प्रमोट भी करा सकते हो।

• और किसी प्रोडक्ट का रिव्यु लिख के भी उसे प्रमोट किया जा सकता है।

• आप अपने ब्लॉग viewers को किसी प्रोडक्ट को रिकमेंडेड करा सकते हो। और उसे प्रमोट भी करा सकते हो।

Pubg Lite App DOWNLOAD


 यूट्यूब ( youtube )

 यूट्यूब एक परफेक्ट और अच्छा दूसरा तरीका है एफिलिएट मार्केटिंग करने का क्योंकि आज हर एक व्यक्ति गूगल के साथ-साथ यूट्यूब भी चलाता है। और यूट्यूब पर आपको काफी जगह ट्रैफिक मिल जाता है। वहां आप बड़ी आसानी से अपने प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हो। जिन चीजों का उपयोग वीडियो बनाते समय किया जाता है। उनका एफिलिएट लिंक डिस्क्रिप्शन बॉक्स में डाल सकते हैं। एवं किसी प्रोडक्ट की सेल के लिए उसका वीडियो भी बनाया जा सकता है। इसी के साथ साथ यूट्यूबर के लिए प्रोडक्ट रिकमेंडेड भी हो सकता है।

 फेसबुक पेज और फेसबुक ग्रुप

 इस तरीके को वे लोग उपयोग करते हैं जो अपना ज्यादा से ज्यादा टाइम फेसबुक पर व्यतीत करते हैं। और इसके साथ कुछ लोगों का कोई यूट्यूब चैनल या ब्लॉग नहीं है। तो वे लोग भी अपना फेसबुक ग्रुप और फेसबुक पेज बनाकर एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट करने के साथ ही उसे sell भी कर सकते हो।

 व्हाट्सएप ( whatsapp )

 आज हर एक व्यक्ति एंड्रॉयड फोन चलाता है। एवं आज हर किसी के मोबाइल में व्हाट्सएप एप्लीकेशन अवेलेबल है। मैं आपको बता दूं कि आप व्हाट्सएप एप्लीकेशन की सहायता से एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हो। सबसे पहले आप एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन कर लें।इसके बाद जो लोग ऑनलाइन सामान खरीदना चाहते हैं। उनका एक ग्रुप बनाना है। फिर जो भी ऑनलाइन आने वाली बेस्ट डील हैं। उनको फाइंड करना है। फिर इसका एफिलिएट व्हाट्सएप ग्रुप में भी जरूर शेयर करना चाहिए।

 टि्वटर ( Twitter )

अगर आप चाहें तो ट्विटर का सहारा लेकर भी आप एफिलिएट मार्केटिंग स्टार्ट कर सकते हो। ट्विटर पर भी आपको काफी सारा ट्रैफिक देखने को मिल जाता है। अगर टि्वटर पर आपके काफी सारे फॉलोअर्स हो चुके हैं। तो वहां पर अपनी प्रोडक्ट की एफिलिएट लिंक को प्रमोट भी कर सकते हो।

एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम के कुछ इंपॉर्टेंट पॉइंट्स

गूगल ऐडसेंस और एफिलिएट लिंक को एक ही साथ में उपयोग कर सकते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग से की गई अर्निंग को आप अपने बैंक अकाउंट में भेज सकते हो। एफिलिएट प्रोग्राम बिल्कुल मुफ्त है। हर कोई इसमें शामिल हो सकता है। एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने के लिए आपकी वेबसाइट का होना ना होना कोई मायने नहीं रखता है। आप प्रोडक्ट को बेचने के लिए अपने मनपसंद किसी भी तरीके को अपना सकते हो।

 जब आप एफिलिएट प्रोग्राम में प्रोडक्ट को भेजेंगे तभी आपको कमीशन मिलेगा। एफिलिएट प्रोग्राम को आप इंटरनेट पर भी खोज सकते हैं। जैसी अमेजॉन एफिलिएट प्रोग्राम / फ्लिपकार्ट एफिलिएट प्रोग्राम / ईटीसी आदि। किसी भी वेबसाइट पर एफिलिएट प्रोग्राम अवेलेबल है या नहीं। यह जानने के लिए आप उसके फूटर में दी गई एफिलिएट लिंक को चेक कर सकते हैं।

 निष्कर्ष ( conclusion )

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? और इसे कैसे शुरू कर सकते हैं। इस तरह की जानकारी मैंने आपको विस्तार पूर्वक दे दी है उम्मीद करता हूं। आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। अगर पसंद आई हो तो इसे लाइक शेयर जरूर करें। साथ ही अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें अगर इस पोस्ट से रिलेटेड आपके मन में कोई भी सवाल है। तो आप हमें कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं। पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

1 Comments

Previous Post Next Post