Web Hosting Kya hai Aur Yah Kaise Kam Karti hai?

Web Hosting Kya hai Aur Yah Kaise Kam Karti hai?

Web hosting kya hoti hai aur kaise kam karti hai
Web hosting kya hai aur kaise kam karti hai

Hello friends, स्वागत है आपका हमारे आज के इस article के अंदर। दोस्तों मैं वादा करता हूं कि आज आपको web hosting के बारे में संपूर्ण जानकारी देने के बाद आपको फिर कभी web hosting के बारे में किसी से कोई जानकारी लेने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी बस दोस्तों आप से शर्त यही है कि आप इस article को एकदम शुरु से लेकर अंत तक पढ़े फिर आपको बाद में कभी भी web hosting के बारे में और अधिक जानने की जरूरत नहीं पड़ने वाली है। चलिए दोस्तों बिना देर किए हुए इस article को start करते हैं और आपको बताते हैं web hosting के बारे में ।

तो फ्रेंड्स आपको बता दें कि web hosting किसी भी  website को internet पर दिखाने के लिए वेब web hosting की आवश्यकता पड़ती है। दोस्तों अगर आप website बनाने जा रहे हैं या आपको यह जानना है की website कैसे बनता है तो आपको वेब होस्टिंग web hosting के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए। यदि आपको इसके बारे में जानकारी अभी नहीं है तो दोस्तों हम किस लिए आए हैं, हां दोस्तों अब हम आपकी इसके बारे में जानने में मदद करने वाले हैं

फ्रेंड्स आज हम इस article में जानेंगे की web hosting क्या होता है?, ये कितने (types) प्रकार होते हैं?, यह kaise काम करता है? इसके क्या-क्या फीचर्स होते हैं? hosting और डोमेन domain में अंतर क्या है? आदि इन सभी प्रश्नों के उत्तर देने वाले हैं।

वेब होस्टिंग क्या है?

दोस्तों आपको बता दें कि जब आप website या blog बनाते हैं तो उसके सारे (contents) कंटेंट्स जैसे फोटो वीडियोस पेज आदि को sarvar में store करना पड़ता है ताकि कोई दूसरे लोग internet के माध्यम से उसे access कर पायें। बेव हांस्टिंग एक प्रकार की सर्विस है जो की हमें अपनी वेबसाइट को इंटरनेट पर अपलोड करने की सुविधा प्रदान करती है।

(वेबसाइट होस्टिंग) website hosting के लिए हमें एक (powerful) शक्तिशाली server की आवश्यकता पड़ती है जो की हमेशा internet से कनेक्टेड होना चाहिए ताकि हमारी website24 घंटे बिना किसी समस्या problem के उपयोगकर्ताओं के लिए मौजूद रहे।

क्योंकि दोस्तों इस प्रकार के सर्वर sarvar को हम खुद मेंटेन नही कर सकते because की इसका (mantanance cost) मेंटेनेंस कॉस्ट बहुत ज्यादा होता है, इसलिए हम web hosting के लिए web hosting कंपनीज की सहायता लेते हैं। वेब hosting companies के पास खुद का powerful शक्तिशाली server, टेक्नोलॉजी और technical staffs होते हैं। फ्रेंड्स हम इनसे मासिक या सालाना पैकेज के हिसाब से बेव हॉस्टिंग hosting सर्विस खरीद लेते हैं और इनके सर्वर में हमें स्पेस मिल जाता है जहाँ हम बड़ी ही सरलता से अपनी website को होस्ट कर पाते हैं।

कम पैसे में सबसे अच्छी वेब हॉस्टिंग कहाँ से खरीदें?

Web hosting कितने प्रकार के होती हैं?

friends aapko bata den ki बेव होस्टिंग भी कई प्रकार के होते हैं, जब हम website बनाते हैं तो अपनी आवश्यकता के according हम hosting खरीदते हैं। Friends यह मुख्यतः 4 types (प्रकार) के होते हैं:

web hosting के प्रकार: types of web hosting-

  • Shared
  • Dedicated
  • VPS
  • Cloud

चलिए friends, इन्हें हम आपको थोडा विस्तार से समझाते हैं।

Shared Hosting-

दोस्तों जैसा कि आपको इसके नाम से ही पता चल रहा है, इस प्रकार type की hosting में कई website एक ही सर्वर sarvar का इस्तेमाल कर रहे होते हैं। क्योंकि दोस्तों आपको बता दें कि आप एक साथ कई सारे वेबसाइट मिलकर एक ही सर्वर के स्पेस RAM, और CPU का उपयोग कर रहे हैं इसलिए यह दूसरे hosting के मुकाबले आपके लिए बहुत हद तक सस्ता होगा।

जैसे दोस्तों अगर आप कहीं जाने के लिए खुद की CAR का उपयोग इस्तेमाल करेंगे तो आपको अधिक पैसे खर्च करने पड़ेंगे, वहीँ यदि aap BUS में यात्रा करते हैं तो आपके काफी paise बच जायेंगे। Friends,यात्रा के समय BUS में यदि भीड़ अधिक हो जाये तो आपको koi problem आ सकती है, ठीक इसी तरह shared hosting में भी कभी-कभी some problems आ सकती हैं।

जैसे दोस्तों अगर आपकी वेबसाइट में ट्रैफिक बहुत ज्यादा आ जाये तो website की speed कम हो जाएगी और हो सकता है आपके visitors विजिटर्स को कुछ टेक्निकल errors दिखाई देने लगे।

Shared Hosting किसके लिए बेहतर है?

दोस्तों आपको बता दें कि अगर आपका बिजनेस business small छोटा है या आप अभी starting कर रहे हैं तो इस प्रकार का hosting आपके लिए बहुत ही best है। Friends, यदि आप blog बना रहे हैं तो आपको shared hosting से ही starting करनी चाहिए। Shared hosting में website host करना बहुत ही सरल होता है। इसमें कई सारे tools और plugins को आप बड़ी ही सरलता से इंस्टॉल कर सकते हैं।

Dedicated Hosting-

दोस्तों आपको बता दें कि इसमें पूरे sarvar पर आपका ही अधिकार होता है। इसके many benefits हैं, परंतु फ्रेंड्स यह दूसरे hosting के मुकाबले बहुत महंगा होता है। because पूरे sarvar पर सिर्फ आपकी ही वेबसाइट हॉस्ट हो रही है इसलिए यह पूरी तरह से आपके नियंत्रण में होता है। आपके इसके ऑपरेटिंग सिस्टम और अन्य सेटिंग्स में changes कर सकते हैं। Friends, आपको बता दें कि dedicate hosting का एक ये भी है फायदा कि अधिक traffic की वजह से होने वाले (नुकसान) loss से बच सकते हैं। इससे आपकी website की speed और performance increase परफॉर्मेंस में बढ़ोतरी होती है।

Dedicated Hosting किसके लिए बेहतर है?

फ्रेंड्स आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि ऐसे वेबसाइट जिस पर बहुत अधिक ट्रैफिक होता है उन्हें dedicated hosting (डेडिकेटेड होस्टिंग) लेनी चाहिए। दोस्तों यदि आपका कोई ecommerce ई कॉमर्स बेबसाइट website है जिसका साइज़ size big है तो आपके लिए यह बहुत ही बेहतर hosting होगी।

VPS (Virtual Private Server) Hosting-

Friends, आपको बता दें कि VPS hosting को हम shared शेयर्ड और डेडिकेटिड हॉस्टिंग दोनों का मिश्रण समझ सकते हैं। फ्रेंड्स इस मॉडल में आपके पास एक डेडिकेटेड सर्वर होता है लेकिन यह सर्वर virtual server सर्वर होता है न की फिजिकल। चलिए दोस्तों आपको थोडा विस्तार से समझाते हैं।

दोस्तों आपको जानकारी दे दें कि यहाँ पर एक sarvar को अलग-अलग many बरच्यल सर्वर्स में बाँट दिया जाता है। एक वेबसाइट के लिए एक वर्चुअल सर्वर दिया जाता है और उस हिस्से पर सिर्फ उसी का अधिकार होता है। यहाँ पर शेयर्ड हॉस्टिंग के मुकाबले एक website को अधिक स्पेस, कंप्यूटरिंग पावर और bandwidth मिलता है इसलिए VPS hosting में शेयर्ड shared hosting के मुकाबले इसका पेज लोड टाइम अधिक तेज हो जाता है।

दोस्तों आपको बता दें कि यह dedicated hosting से बेहतर तो नही होता But shared hosting से यह ज्यादा अच्छा है। Friends,यदि आपको लगता है की आपकी site पर बहुत अधिक वॉल्यूम में ट्रैफिक आने वाली है तो आपको यह पता होना चाहिए की इसे VPS hosting होस्टिंग में भी कुछ limitations सीमाएं होते हैं।

VPS hosting का कौन इस्तेमाल करता है?

दोस्तों आपको बता दें कि कम मात्रा में traffic पाने वाली Small websitesभी VPS hosting का लाभ उठा सकती हैं। friends if आपको लगता है की आपकी site की loading speed कम हो रही है, तो आप एक shared hosting शेयर्ड हॉस्टिंग की तुलना में VPS hosting को select karna बेहतर होगा।

Cloud Hosting क्लाउड हॉस्टिंग -

Friends, dedicated server और VPS के साथ problem यह है की आपके पास resources रिसोर्सेज कम होते हैं यहाँ पर स्टोरेज और छमता की एक limit सीमा होती है। हालाँकि फ्रेंड्स अधिकतर वेबसाइट इन सीमाओं (limitation) तक पहुँच नही पाते हैं, But कभी-कभी website के कुछ कंटेंट बाइरल हो सकते हैं और इससे suddenly traffic ट बढ़ जाती है जिसे handle करना hard होता है।

Friends,इन problems का solution आपको cloud hosting में मिल सकता है। Doston यहाँ पर कोई एक server नही बल्कि कई sarvar एक साथ मिलकर आपकी website host होस्ट करते हैं।

Doston aapko bata den ki पिछले कुछ वर्षों में cloud hosting (क्लाउड होस्टिंग) बहुत ही ज्यादा famous हुआ है और इसका चलन बढ़ता ही जा रहा है।cloud hosting पर आपकी site पर अधिक वॉल्यूम ट्रैफिक इसकी loading speed को प्रभावित effect नहीं करता है। वैसे दोस्तों, आप डेडिकेटिड dedicated hosting हॉस्टिंग की तरह इसमें पूरे सर्वर को नियंत्रित नही कर सकते, अर्थात आप किसी भी sarvar settings को नहीं बदल सकते हैं या कोई विशेष software install नहीं कर सकते हैं।

But यदि आपके पास एक साधारण website है और आपको अधिक technical options की आवश्यकता नहीं है, तो आपके लिए cloud hosting एक अच्छा option हो सकता है।

cloud hosting का कौन इस्तेमाल करता है?

दोस्तों आपको बता दें कि क्लाउड हॉस्टिंग बहुत ही flexible हॉस्टिंग solution है। आप अपने आवश्यकता के according डिस्क स्पेस और मेमोरी memory को बढ़ा सकते हैं। यह ऑर्गनाइजेशन के लिए बहुत ही अच्छा तो है ही इसके अलावा ऐसे वेबसाइट मालिक जो समय-समय पर ट्रैफिक spikes की वजह से परेशान या दुखी रहते हैं उनके लिए भी यह बहुत ही useful है।

Download

 web hosting कैसे काम करता है?

Doston aapko bata den ki web hosting के लिए कई companies होती हैं जो की website owners बेव साइट के मालिक को अपने सर्वर पर website host करने की सुविधा देते हैं और बदले में हर months आपसे कुछ paise लेते हैं।

Friends, website के सारे HTML pages, फोटो वीडियो आदि को servar में download करने के बाद उसे internet के माध्यम से कभी भी किसी भी समय वेब एड्रेस address (डोमेन नाम domain name) के माध्यम से कोई भी देख सकता है।

दोस्तों आपको बता दें कि जब भी कोई i इंटरनेट उपयोगकर्ता अपने web browser में वेब address डालकर आपके website पर आएगा तो उसका computer उस sarvar से connect हो जायेगा जहाँ आपने website की ह hosting की है। अब server उन HTML pages और contents कंटेंट को विजिटर के ब्राउज़र पर डिस्प्ले कर देगा।

वेब होस्टिंग और डोमेन में क्या अंतर है?

 domain name और web hosting दो अलग-अलग चीजें हैं। But  कई सारी companies ऐसी होती हैं जो domain और hosting दोनों बेचते हैं। for example – GoDaddy, यह दुनिया का सबसे बड़ा domain register है, But यह डोमेन domain के अलावा hosting की सुविधा भी प्रदान करता है। friends, यह भी एक वजह है की नये लोग web hosting और domain के बीच लोग अक्सर भ्रमित रहते हैं।

Friend आपको बता दें कि यद हम आसान शब्दों में कहें तो:“ एक domain name आपके घर के पते की तरह है; जबकि web होस्टिंग, आपके घर के कमरे हैं जहाँ आप अपना सामान रखते हैं।”

यहाँ पर पताdomain नाम होता है जो की आपके website का पता है और स्टोरेज के लिए कंप्यूटर computer hard disc aur memory आदि उपयोग होते हैं जिन्हें web hosting कहा जाता है।

Friends i hope यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा होगा और दोस्तों इस आर्टिकल के अंदर दी गई जानकारी आपके लिए बहुत ही काम की है। दोस्तों यदि इस article में बताई गई कोई बात आपकी समझ में नहीं आती है तो आप हमें comment box में कमेंट करके पूछ सकते हैं तो friends हम आपको आपके प्रश्न का जवाब अवश्य देंगे ।दोस्तों इस आर्टिकल को आप अपने फ्रेंड्स के साथ facebook whatsapp twitter तथा सोशल मीडिया की अन्य प्लेटफार्म पर शेयर कीजिए दोस्तों चलिए आपको बहुत जल्द मिलते हैं किसी बहुत ही विशेष जानकारी के साथ तब तक के लिए नमस्कार धन्यवाद।

Post a Comment

Previous Post Next Post